सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा- यहां देखें | Safed Balo Ka Homeopathik Ilaj

क्या आपके बाल भी सफेद हो रहे हैं? क्या आप भी अपने बालों को लेकर के बहुत परेशान हैं, तो अब आपको बिल्कुल चिंता करने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको एक ऐसी सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा बताने वाले हैं जो आपके बालों को बहुत ही जल्दी काला कर देगी और आपके बालों को एक नई मजबूती प्रदान करेगी। तो चलिए जानते हैं-

Table of Contents

बाल सफेद क्यों होते हैं

आज की इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में हर कोई व्यक्ति चाहता है कि मेरे बाल बहुत ही अच्छे, घने- काले और बहुत स्ट्रांग रहें, लेकिन क्या आप जानते हैं कि वर्तमान जीवन शैली के चलते असमय में ही बालों का सफेद हो जाना हर किसी को चिंता में डाल देता है।

वैंसे तो बालों का सफेद होना एक प्राकृतिक बात है लेकिन आजकल बिना समय के ही बाल सफेद हो जाते हैं। आखिर बाल सफेद क्यों होते हैं? बाल सफेद होने का क्या कारण हैं? कौन सी विटामिन की कमी से बाल सफेद होते हैं? इत्यादि बहुत सारी बातें हैं जो हम आज आप सभी को बताने वाले हैं।

बाल सफेद क्यों होते हैं यह तो हम आपको बताएंगे ही, लेकिन साथ में सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा एवं विभिन्न सफेद बालों के घरेलू उपचार भी आप सभी के साथ साझा करेंगे। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं- बाल सफेद होने के मुख्य कारण

  • आनुवंशिक कारण
  • प्रोटीन की कमी
  • विटामिन B12 की कमी
  • थायराइड की कमी
  • तनाव के कारण
  • धूम्रपान का सेवन
  • आहार का असंतुलन


1. आनुवंशिक कारण-
बाल सफेद होने का एक कारण यह भी है कि यदि घर में आनुवंशिकता के साथ ही सबके बाल सफेद होने लगते हैं, तो आप समझ सकते हैं कि यह एक वंशानुगत कारण है। इसकी वजह से भी अक्सर बाल सफेद होते हैं जो कि पैदाइशी से ही ऐंसा होता है।

इन्हें भी देखें-

2. प्रोटीन की कमी- आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों का खान-पान बहुत बदल चुका है। पोषक तत्वों का खाने में बहुत ही कम प्रयोग होता है। बालों का सफेद होने के पीछे एक बहुत बड़ा कारण है- प्रोटीन की कमी। जी हां, प्रोटीन की कमी से बाल अक्सर सफेद हो जाते हैं। यदि आप भी प्रोटीन बहुत कम मात्रा में लेते हैं तो आज से ही रोजाना प्रोटीन लेना शुरू करें।

3. विटामिन B12 की कमी- प्यारे स्वास्थप्रेमियों, आप सभी लोग जानते होंगे- हमारे शरीर में विटामिन का होना कितना जरूरी है। बाल सफेद होने के पीछे एक बहुत बड़ा कारण है- विटामिन B12 की कमी। जी हां, विटामिन B12 की कमी के कारण बाल सफेद हो जाते हैं। यदि आपको पता नहीं है कि विटामिन B12 में कौन-कौन से पोषक तत्व आते हैं तो इस लेख के सबसे नीचे देख सकते हैं।

4. थायराइड की कमी- थायराइड की कमी से भी बाल सफेद होते हैं। जब थायराइड में हार्मोन का निर्माण कम हो जाता है तो ऐसी स्थिति में बालों का सफेद होना शुरू हो जाता है। यह भी बाल सफेद होने का एक बहुत बड़ा कारण है।

5. तनाव के कारण- प्यारे पाठकों, जैंसे कि आप सभी जानते हैं कि तनाव के कारण बहुत सारी बीमारियां शरीर में होने लगती है, और यह बात सचण भी बाल सफेद होते हैं। तनाव के कारण हमारे शरीर में कुछ ऐसे हार्मोन पैदा होने लगते हैं जो कि हमारे बालों पर बहुत बुरा असर डालने लगते हैं। इसके कारण बाल सफेद होने लगते हैं। इसीलिए आपको हमेशा तनाव मुक्त रहना चाहिए

6. धूम्रपान का सेवन- धूम्रपान करना वैंसे तो स्वास्थ्य के लिए खराब होता है। धूम्रपान करने से बहुत प्रकार की बीमारियां धीरे-धीरे शरीर को घेरने लगती हैं, लेकिन वहीं अगर हम बात करें धूम्रपान का बालों पर क्या असर पड़ता है, तो यह भी बिल्कुल सच है कि यदि आप धूम्रपान करते हैं, तो आपके बालों पर इसका बुरा असर जरूर पड़ेगा। सफेद बाल होने के पीछे धूम्रपान भी एक बहुत बड़ा कारण है। इसीलिए यदि आप धूम्रपान करते हैं तो आज से ही इसको छोड़ने का प्रयास करे

7. आहार का असंतुलन- आहार-विहार, खानपान आदि हमारे जीवन में बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं। भगवद्गीता भी इस बात को कहती है कि- “युक्ताहारविहारस्य युक्त चेष्टस्य कर्मसु” अर्थात व्यक्ति को हमेशा आहार एवं विहार सही ढंग से रखना चाहिए।

सही ढंग से नियमित सही आहार के सेवन करने से व्यक्ति अपने आप में एक स्वस्थ शरीर को प्राप्त करता है। खानपान का असर शरीर के विभिन्न अंगों पर कहीं ना कहीं जरूर देखने को मिलता है।

ऐंसी स्थिति में आपको अपने खान-पान पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। यदि आपके बाल भी सफेद हो रहे हैं, तो इसके लिए अपने खानपान पर विशेष ध्यान दें।

इन्हें भी देखें-

सफेद बालों को काला करने की दवा

क्या आपके बाल भी सफेद हो रहें हैं? हां जरूर हो रहे होंगे और नहीं हो रहे तो आगे के लिए सतर्क हो जाइए। आजकल हर किसी के साथ यह समस्या हो रही है, लेकिन अब आपको चिन्ता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि आज हम आपको बताएंगे कि सफेद बालों से छुटकारा कैंसे पाएं।

कोई भी बीमारी हो हर एक बीमारी के लिए बहुत सारे उपाय हैं। बहुत प्रकार की दवाइयां उपलब्ध है। ठीक वैंसे ही सफेद बालों की यदि बात की जाए तो सफेद बालों के इलाज के लिए भी बहुत सारी दवाईयां उपलब्ध है जैंसे कि-

  • सफेद बालों की घरेलू दवा
  • सफेद बालों की आयुर्वेदिक दवा
  • सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा
  • सफेद बालों की एलोपैथिक दवा
  • सफेद बालों के लिए योगा


वैंसे तो सफेद बालों को काला करने के बहुत उपाय हैं लेकिन आज हम आप सभी को बहुत ही बेहतर उपाय बताने वाले हैं। सफेद बालों को काला करने की दवा भी क‌ई प्रकार की हैं, लेकिन हम आज आपको एक ऐंसी सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा बताएंगे जिसके‌ इस्तेमाल से फिर दुबारा कभी भी बाल सफेद नहीं होंगे।

इन्हें भी देखें-

सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा- Safed Balo Ka Homeopathik Ilaj

प्यारे दोस्तों, अगर आपके बाल भी असमय में ही सफेद हो रहे हैं, तो हम आपको अब सबसे बेहतर दवा बताने वाले हैं। जी हाँ,अब आपको चिन्ता करने की कोई जरूरत नहीं है। इस नुस्खे को आजमाने से आपके सफेद बाल हमेशा-हमेशा के लिए काले हो जाएंगे। तो आइये, जानते हैं सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा

सफेद बालों के लिए होम्योपैथिक दवा- नेट्रम म्योर

यदि आपके बाल कम उम्र में ही सफेद होने लग गए हैं तो यह होम्योपैथिक दवा सफेद बालों को काला करने में बहुत ही कारगर साबित हो सकती है।

डॉक्टर्स के मुताबिक नेट्रम म्योर होम्योपैथिक दवा बालों की सभी प्रकार की बीमारी को दूर करने में बहुत फायदेमंद है। सफेद बालों को काला करने के लिए तो यह होम्योपैथिक दवा बहुत ही ज्यादा प्रभावी है।

सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा- लाइकोपोडियम

लाइकोपोडियम होम्योपैथिक दवा विशेष रूप से बालों की बीमारी के लिए ही जानी जाती है। यह दवा पके हुए बालों को सही करने में साथ ही बालों को मजबूती भी देती है और विशेष रुप से कम उम्र में होने वाले सफेद बालों को काला करने में बेहतर फायदा दिलाती है। डॉक्टर के परामर्श अनुसार आप इस दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्यारे दोस्तों, सफेद बालों को काला करने के लिए सबसे बेहतर होम्योपैथिक दवा कौन सी है। इसके बारे में तो हम आपको बता चुके हैं लेकिन अब हम कुछ बहुत ही खास बेहतर प्रभावी होम्योपैथिक दवाओं की सूची बता रहे हैं जो कि सफेद बालों की समस्या के लिए जानी जाती हैं। सफेद बालों को काला करने में बहुत ही फायदेमंद होने वाली होम्योपैथिक दवाओं की सूची तथा उनके बारे में यहां बताया जा रहा है।

इसे भी पढें-

 सिरदर्द दूर करने का सबसे बेहतर उपाय

 

सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा लिस्ट

प्यारे स्वास्थ्य प्रेमियों, तो आइए अब हम जानेंगे कुछ खास बेहतर सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवाओं के बारे में यहां कुछ बहुत ही प्रभावी होम्योपैथिक दवाओं की लिस्ट दी गई है साथ ही उनके बारे में सामान्य जानकारी भी आपके साथ साझा की जा रही है तो आइए और अपने सफेद बालों की समस्या को दूर कर लीजिए। 

सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा लिस्ट
नेट्रम म्योर
लाइकोपोडियम
जाबोरंडी (Jaborandi)
थायरॉइडिनम 200 (Thyroidinum 200)
थायरॉइडिनम 200 (Thyroidinum 200)
वायसबडेन 30 (Wiesbaden 30)
एसिड फाॅस्फोरिकम 200 (Acid Phosphoricum)

सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा- जाबोरण्डी (Jaborandi)

सफेद बालों को काला करने के लिए यह एक बहुत ही बेहतर होम्योपैथिक दवा है। इस दवा से बालों पर मालिश करने से जल्द ही बाल काले होने लगते हैं। इस दवा को आप अपने नजदीकी किसी भी मेडिकल होम्योपैथिक स्टोर से प्राप्त कर सकते हैं।

सफेद बालों का होम्योपैथिक इलाज- थायरॉइडिनम 200 (Thyroidinum 200)

चिकित्सकों के अनुसार सफेद बालों को काला करने के लिए बेहतर होम्योपैथिक दवा के रूप में यह थायरॉइडिनम 200 होम्योपैथिक दवा अक्सर बताई जाती है। यह दवा सफेद बालों को काला करने में बहुत कारगर है।

सफेद बालों की होम्योपैथिक दवा- वायसबडेन 30 (Wiesbaden 30)

यह होम्योपैथिक दवा भी सफेद बालों‌ को काला करने के लिए काफी अच्छी मानी गई है। विशेष रुप से नए काले बाल उगाने के लिए यह दवा बहुत ही बेहतर है। आप इस दवा को किसी भी होम्योपैथिक स्टोर से चिकित्सक के परामर्शानुसार आसानी से खरीद सकते हैं।

सफेद बालों की दवा- एसिड फाॅस्फोरिकम 200 (Acid Phosphoricum)

क्या आप भी चाहते हैं कि आपके सफेद बाल हमेशा के लिए काले हो जाएँ, तो इसके लिए आपको इस होम्योपैथिक दवा का इस्तेमाल करना चाहिए। चिकित्सक के परामर्श अनुसार इस दवा का सेवन कर सकते हैं। यह दवा सफेद बालों को काला करने के लिए काफी अच्छी मानी गई है।

सफेद बालों को काला करने की होम्योपैथिक दवा के फायदे व नुकसान

यदि आप भी अपने सफेद बालों को लेकर बहुत परेशान हैं और किसी होम्योपैथिक दवा का प्रयोग करना चाहते हैं, जिससे कि आपके बाल बहुत ही जल्दी काले हो जाएं, तो इसके लिए आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए।

जैंसे कि- होम्योपैथिक दवा लेने से पहले और उसके बाद में लगभग आधे घंटे के मध्य समय में किसी भी प्रकार का कोई खाद्य पदार्थ नहीं लेना चाहिए। होम्योपैथिक दवा के साथ में किसी दूसरी दवा का इस्तेमाल न करें आदि।

सफेद बालों के लिए होम्योपैथिक दवा के फायदे

यदि आप अपने सफेद बालों को काला करने के लिए किसी होम्योपैथिक दवा का सहारा लेते हैं तो होम्योपैथिक दवा आपके लिए बेहतर साबित हो सकती है। आपके बालों को एक नई चमक और नई मजबूती दे सकती है। आइये, यहां होम्योपैथिक दवा के कुछ फायदे बताए गये हैं।

  • होम्योपैथिक दवा एलोपैथिक की तुलना में काफी सुरक्षित मानी जाती है।
  • होम्योपैथिक दवा के साइड इफेक्ट्स बहुत कम होते हैं।
  • सफेद बालों को काला करने के लिए होम्योपैथिक दवा एक बेहतर उपाय हो सकता है।

सफेद बालों के लिए होम्योपैथिक दवा के नुकसान

होम्योपैथिक दवा लेना काफी अच्छा है फिर भी यदि व्यक्ति सही ढंग से इसका प्रयोग ना करे तो इससे कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। इसके लिए आपको इन बातों का ध्यान रखना चाहिए-

  • होम्योपैथिक दवा के साथ में आयुर्वेदिक दवा नहीं लेनी चाहिए।
  • होम्योपैथिक दवा लेते समय खट्टे पदार्थों का सेवन न करें।
  • होम्योपैथिक दवा लेते वक्त अन्य दवाइयों का प्रयोग न करें।

सफेद बालों को काला करने के घरेलू उपाय

होम्योपैथिक दवा की तुलना में यदि आप किसी भी बीमारी को आसानी से दूर करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको उसके घरेलू उपायों का प्रयोग करना चाहिए यदि आपके बाल सफेद हो रहे हैं और आप किसी भी प्रकार की बाहरी दवा का प्रयोग नहीं करना चाहते हैं, तो सफेद बालों का होम्योपैथिक इलाज के बजाय सफेद बालों को काला करने के लिए आप घर बैठे ही कुछ घरेलू उपाय का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इनके प्रयोग से आपके सफेद बाल काफी हद तक काले हो सकते हैं। सफेद बालों‌ को काला करने के ऐंसे ही कुछ घरेलू उपाय यहाँ बताए जा रहे हैं।

1. सफेद बालों का घरेलू उपाय- अदरक 

अदरक के रस को शहद के साथ मिलाकर के बालों पर लगाएं इससे जल्द ही सफेद बाल काले होने लगते हैं।

2. सफेद बालों का घरेलू उपचार- आंवले का तेल

आंवले के तेल का प्रयोग करने से भी सफेद बालों में कालापन आने लगता हैं।

3. सफेद बालों का घरेलू उपाय- नारियल तेल व लौकी
सूखी लौकी को नारियल के तेल में मिलाकर नियमित रूप से सफेद बालों पर मसाज करने से भी सफेद बाल काले होने लगते हैं।

सफेद बालों को काला करने का योगा

प्राचीन काल में यदि किसी भी बिमारी को दूर करने के लिए कोई सरल और सटीक उपाय था, तो वह था केवल- योग। जी हां, यह बिल्कुल सत्य है- योग आज भी स्वस्थ शरीर के लिए और विभिन्न रोगों को दूर करने के लिए एक बहुत बड़ा सुदृढ़ उपाय है।

हमारे प्राचीन योग शास्त्र में ऐंसी विभिन्न योग क्रियाओं का उल्लेख है, जिनके द्वारा नाना प्रकार के रोग बहुत ही कम समय में हमेशा के लिए दूर हो जाते हैं।

सफेद बालों को काला करने के लिए भी कुछ ऐसे ही महत्वपूर्ण योगासन हैं जिनका नियमित अभ्यास करने से कुछ ही दिनों के अन्दर सफेद बालों में परिवर्तन होने लगता है। सफेद बालों को काला करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण योगासन-

सफेद बालों को काला करने का योगा- शीर्षासन

योग शास्त्र के अनुसार शीर्षासन सभी आसनों में से एक अन्यतम श्रेष्ठ आसन माना गया है। जब व्यक्ति शीर्षासन करता है, तो शरीर के सिर वाले भाग पर रक्त का प्रवाह होने लगता है जिसका कि सीधा असर हमारे सिर के बालों पर भी पड़ने लगता है। सिर के बालों में अच्छे ढंग से रक्त प्रवाह होने लगता है, जिससे कि सफेद बाल बहुत जल्द ही काले होने लगते हैं।

यदि आप नियमित रूप से शीर्षासन का प्रयोग करते हैं तो निसंदेह आपके सफेद बालों में एक नई चमक आने लगेगी। ध्यान रहे- शीर्षासन कमजोर व्यक्ति को नहीं करना चाहिए। अतः आसन को करने से पहले उसके नियम व विधि को जरूर जानें।

सफेद बालों की समस्या के लिए योगा- सर्वांगासन

सर्वांगासन भी शीर्षासन की तरह ही बालों के लिए एक बेहतर आसन है। कोई व्यक्ति शीर्षासन करने में असमर्थ है तो वह आसानी से सर्वांगासन कर सकता है। सर्वांगासन से भी बहुत सारे फायदे होते हैं जो कि शीर्षासन से मिलते हैं। अतः यदि आप एक कमजोर शरीर वाले व्यक्ति हैं तो आप सर्वांगासन का प्रयोग करके अपने सफेद बालों को काला एवं मजबूत कर सकते हैं।

सफेद बालों के लिए योगा- शलभ आसन

शलभासन भी मस्तिष्क एवं बुद्धि तथा बालों के लिए काफी फायदेमंद होता है इसके नियमित अभ्यास से मस्तिष्क की मांस पेशियां मजबूत होती हैं। साथ ही बालों को मजबूती मिलती है। सफेद बाल भी धीरे-धीरे काले होने लगते हैं।

प्यारे दोस्तों, इस प्रकार हमने आज के इस लेख के माध्यम से सफेद बालों की समस्या के बारे में चर्चा की और विशेष रूप से सफेद बालों को काला करने के लिए होम्योपैथिक दवा के बारे में विस्तार से आपको बताया। साथ ही सफेद बालों के लिए होम्योपैथिक दवा के नुकसान व फायदे आदि की भी चर्चा की।

हमें उम्मीद है यदि आपको भी सफेद बालों की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो अब आपके बाल निश्चित रूप से काले हो जाएंगे। प्यारे दोस्तों, यहां कुछ सफेद बालों की समस्या को लेकर हमारे दर्शकों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर दिया गया है। तो आइए इन प्रश्नों का उत्तर भी देखिए

इसे भी पढें-

खुजली दूर करने का सबसे बेहतर उपाय

 

सफेद बालों का इलाज- FAQs

बाल किस विटामिन की कमी से सफेद होते हैं

बाल अक्सर विटामिन सी की कमी से सफेद होने लगते हैं यदि शरीर में विटामिन सी की मात्रा कम है तो बाल झड़ने तथा सफेद होने लगते हैं साथ ही विटामिन B12 की कमी से भी बालों पर बुरा असर पड़ता है।

सफेद बाल के उपचार 100 परसेंट किसमें है एलोपैथी होम्योपैथी या अन्य

हेल्थ विशेषज्ञों का मानना है कि एलोपैथिक की तुलना में होम्योपैथी ज्यादा फायदेमंद तथा सुरक्षित है सफेद बालों का उपचार भी एलोपैथिक के बजाय होम्योपैथी में ज्यादा प्रभावित होता है।

सफेद बालों को काला करने के लिए streax Serum काम आता है क्या?

streax Serum बालों को सुंदर तथा मजबूत बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। streax Serum सफेद बालों को काला करने के लिए विशेष रूप से काम नहीं आता है। हां यह बालों को मजबूती तथा नहीं चमक जरूर प्रदान करता है।

सिर के बाल सफेद होने से रोकने के लिए कौन सा तेल सबसे अधिक उपयुकत होगा?

सिर के बाल सफेद होने से रोकने के लिए सबसे अच्छा तेल – नारियल का तेल माना जाता है किसी के साथ आंवला आदि का तेल भी काफी फायदेमंद होता है।

Youtube Channel Image
Earn Money घर बैठे पैसे कमाएं
    Click Here