छाती में कफ निकालने की अंग्रेजी दवा- यहाँ देखें | बलगम की अंग्रेजी दवा Tablet

क्या आपकी छाती में कफ जम चुका है तो सावधान हो जाइये। हो न हो कि यह किसी गंभीर बीमारी को न्यौता दे, उससे पहले ही इसका उपचार कर लें। जी हां, यहाँ हम आपको छाती में कफ निकालने की अंग्रेजी दवा बता रहे हैं, जिससे कि शत प्रतिशत आप इस समस्या से छुटकारा पा लेंगे।

छाती में कफ जमने के बहुत सारे कारण होते हैं। कभी कभी तो यह सर्दी जुकाम के चलते ही जमने लगता है। सिगरेट, धूम्रपान आदि से भी छाती में कफ जमने की शिकायत हो सकती है। वजह चाहे कोई भी हो, हम आपको इसका असरदार उपाय बता रहे हैं।

छाती से कफ निकालने के लिए सबसे अच्छी दवा कौन सी है?, फेफड़ों में जमा कफ कैसे निकाले, छाती में बलगम जम जाए तो क्या करना चाहिए? इसकी पूरी जानकारी दे रहे हैं। अतः यहाँ बताई गयी एक एक बात आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है। आइये, जानते हैं

छाती में कफ क्यों बनता है? छाती में कफ जमने के कारण

आमतौर पर मानव शरीर में तीन विकार रहते ही हैं। ये तीन वात, पित्त एवं कफ होते हैं। शरीर में अधिक मात्रा में यदि ये दोष उत्पन्न हो जाएं तो बहुत सारी बीमारियां होती हैं।

वैसे तो हर व्यक्ति के शरीर में कफ पाया जाता है, लेकिन जब यह छाती में अधिक मात्रा में बढने लगे तो भयानक से भयानक रोग हो सकता है। छाती में कफ जमने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं। इनमें से धूम्रपान करना, सर्दी जुकाम होना, टीबी की बीमारी, साइनस होना आदि आम कारण है। इनकी वजह से छाती में कफ बढ़ना आम बात है।

छाती में कफ निकालने की अंग्रेजी दवा- Chest Me Cough Ki Dawa

वैंसे तो छाती में कफ निकालने के बहुत सारे उपचार उपलब्ध हैं। फिर भी यदि अन्य उपचारों की कम‌ सम्भावना हो तो अंग्रेजी दवा का इस्तेमाल बेहतर है। यहाँ छाती में कफ निकालने की बेहतरीन रामबाण अंग्रेजी दवाओं की जानकारी दी गयी है।

फोल्कोडाइन (Pholcodine)

यदि आपकी छाती में कफ जप रहा है और साथ में खांसी भी होती है तो यह दवा आपके लिए अच्छी साबित हो सकती है। फोल्कोडाइन छाती में कफ निकालने की अंग्रेजी दवा है। विशेष रूप से यह Cough यानि खांसी में भी इस्तेमाल की जाती है।

डिस्ट्रोमेथोर्फ़न (Dextromethorphan)

यह भी एक अंग्रेजी दवा है जो कि सूखी खांसी, कफ, बलगम, छाती में कफ आदि के लिए जानी जाती है। हालांकि अंग्रेजी दवाओं का इस्तेमाल आपको डाॅक्टर की सलाह से ही करना उचित है।

मुल्तानी कुका कफ सिरप

यदि आप वास्तव में छत में कफ जमने से तंग आ चुके हैं और सबसे बेहतरीन दवा खोज रहे हैं तो यह मुल्तानी कुका कफ सिरप आपके लिए है। यह गले का कफ, बलगम,छाती में कफ निकालने में कारगर सिरप है। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है, क्योंकि यह पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक है। 

इन्हें भी देखें-

शुगर में चावल खाना सही या गलत
सफेद बालों को काला करने की सबसे असरदार दवा

छाती में कफ निकालने का उपाय Video

यहाँ नीचे छाती में कफ निकालने का एक महत्वपूर्ण वीडियो दिया गया है। इस वीडियो में छाती यानि फेफड़ों में जमे कफ को निकालने के बेहतरीन उपाय बताए गये हैं। आप इस उपाय के तरीक छाती, गले, फेफड़ों में जमे कफ को आसानी से निकाल सकते हैं।

इन्हें भी देखें-

छाती से कफ निकालने के लिए सबसे अच्छी दवा कौन सी है?

छाती में कफ निकालने के लिए नीलगिरी का तेल बहुत ही ज्यादा असरदार है। यह अन्य दवाओं के मुताबिक काफी कारगर है। नीलगिरी का तेल आप बाजार से प्राप्त कर सकते हैं। नीलगिरी के तेल को छाती पर लगाएं व दो चार बूंदे नाक में डालें। यह छाती में कफ निकालने की जबरदस्त दवा यानि चमत्कारिक घरेलू उपाय है।

कफ निकालने के लिए कौन सा सिरप अच्छा है?

शरीर से कफ को बाहर निकालने के लिए बहुत सारे सिरप उपलब्ध हैं जिनमे कफ जीटीबी सिरफ काफी अच्छा माना जाता है. यह छाती में जमे हुए कफ को श्वास नली के द्वारा बाहर फेंकने में विशेष सहायक है. इसके साथ ही इस सिरप को पीने से बलगम यानि कफ की चिपचिपाहट भी दूर हो जाती है.

 

प्रिय पाठकों, आज के इस आर्टिकल में छाती में कफ निकालने की अंग्रेजी दवा, बलगम की अंग्रेजी दवा Tablet, बलगम की अंग्रेजी दवा Syrup, गले, फेफड़ों, छाती में कफ निकालने की दवा इत्यादि विभिन्न प्रकार की आवश्यक जानकारी साझा की गयी। स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य किसी भी प्रकार की सहायता के लिए आप इस वेबसाइट के मेनू सेक्शन में जा सकते हैं।

FAQ’s

सवाल 1. शरीर में कफ बढ़ जाने से क्या होता है?

जवाब- शरीर में गीलापन, सुस्ती आना, पेशाब में चिपचिपाहट, श्वास में दिक्कत, खांसी होना इत्यादि शरीर में ज्यादा कफ होने से हो सकते हैं.

सवाल 2. केला खाने से कफ बनता है क्या?

जवाब- चिकित्सकों का कहना है कि ज्यादा केला खाने से शरीर में कफ की वृद्धि होती है. इसीलिए ज्यादा केला खाने से बचना चाहिए.

सवाल 3. क्या बलगम का निकलना अच्छा है?

जवाब- शरीर से खांसी आदि के जरिए बलगम का बाहर निकलना अच्छी बात है लेकिन यदि यह शरीर के अंदर ही जमा हो रहा हो तो यह हानिकारक होता है.

Youtube Channel Image
Earn Money घर बैठे पैसे कमाएं
    Click Here