चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं ? | Chandra Grahan Me Garbhvati Mahila Ko Sona Chahie Ya Nahin

चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं ? | Chandra Grahan Me Garbhvati Mahila Ko Sona Chahie Ya Nahin

आप भी एक गर्भवती महिला हैं और यह जानना चाहती हैं कि चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं , अगर सोना चाहिए तो कैसे सोना चाहिए और यदि नहीं सोना चाहिए तो इसके पीछे क्या कारण है।

भारत की नंबर वन हिंदी हेल्थ वेबसाइट Healthneed.in में आपका स्वागत है. आज के इस विषय में हम आपको चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं – इसके पीछे की पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

इस वेबसाइट पर प्रेगनेंसी, मासिक धर्म, पीरियड, गर्भावस्था से जुड़ी समस्याएं एवं सभी अन्य रोगों के उपचार से जुड़ी सारी जानकारी प्रदान की जाती है। इसके लिए आप इस वेबसाइट के मेनू बार में जा सकते हैं।

फिलहाल आज के इस विषय में हम आपको चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं इसकी पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। यदि आप एक गर्भवती महिला हैं और यह जानना चाहती हैं तो इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

इन्हें भी देखें-

Pregnancy गर्भावस्था में मन्दिर जाना चाहिए या नहीं?
जानें- पेट में लड़का हो तो कहाँ दर्द होता है?
हल्दी से प्रेगनेंसी रोकने के सबसे असरदार उपाय
5 मिनट में रुके हुए पीरियड्स का असरदार उपाय

 

चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को सोना चाहिए या नहीं ??

अक्सर प्रेग्नेंट यानी कि गर्भवती महिलाओं के मन में यह सवाल होता है कि चंद्रग्रहण में उन्हें सोना चाहिए या नहीं। समाज में ऐसी तमाम बातें प्रचलित है जिनसे कि गर्भवती महिलाएं जानती हैं कि वह प्रेगनेंसी में यदि चंद्र ग्रहण हो तो नहीं सोना चाहिए।

लेकिन यह बिल्कुल सही नहीं है। गर्भावस्था के 9 महीने के दौरान कभी भी चंद्रग्रहण आ सकता है। जैसे कि इसी साल 2022 में चंद्रग्रहण जब था, उस दौरान गर्भवती महिलाओं के मन में अक्सर इस प्रकार का सवाल आया होगा।

सामान्यतः बात करें तो चंद्रग्रहण में न केवल गर्भवती महिलाओं को बल्कि अन्य लोगों को भी नहीं सोना चाहिए। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि जब भी चंद्रग्रहण होता है तो यह एक निश्चित अवधि के लिए ही लगता है।

हो सकता है यह एक 2 घंटे के अंतराल का हो और रात्रि 10:00 या 11:00 बजे से पहले का हो तो ऐसे में स्वाभाविक है कि गर्भवती महिला हो या सामान्य व्यक्ति।

वह नहीं सोएगा क्योंकि यह उसके सोने का समय नहीं है। यदि चंद्र ग्रहण रात्रि के समय में है। रात 12:00 बजे के बाद में चंद्र ग्रहण लगता है। उस दौरान कुछ अपवाद स्वरूप नियम है। गर्भवती महिला के लिए बताया जाता है कि वह चंद्र ग्रहण में सो सकती है।

यदि चंद्र ग्रहण आधी रात्रि के बाद लगता है तो गर्भवती महिला को बिल्कुल भी संदेह नहीं करना चाहिए। इसके अलावा यदि चंद्र ग्रहण 12:00 बजे से पहले लगता है तो गर्भवती महिला इच्छा अनुसार शयन कर सकती है।

प्रिय महिलाओं, गर्भवती महिला को चंद्र ग्रहण में सोना चाहिए या नहीं एवं गर्भवती महिला को चंद्र ग्रहण में क्या करना चाहिए क्या नहीं करना चाहिए – इसकी पूरी जानकारी वीडियो के माध्यम से देखना चाहते हैं तो नीचे वीडियो दिया गया है। जिसमें सारी बातें बताई गई हैं जो कि चंद्रग्रहण में एक गर्भवती महिला के लिए अत्यंत उपयोगी हैं.

 

इन्हें भी देखें-

Pregnancy गर्भावस्था में मन्दिर जाना चाहिए या नहीं?
प्रेगनेंट होने के लिए Full गाइड बुक PDF
मासिक धर्म की पूरी किताब PDF
अंडा (Egg) फटने के बाद प्रेगनेंसी के लक्षण
जानें- पेट में लड़का हो तो कहाँ दर्द होता है?
हल्दी से प्रेगनेंसी रोकने के सबसे असरदार उपाय
5 मिनट में रुके हुए पीरियड्स का देखें-

 

चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को क्यों नहीं सोना चाहिए

समाज में कुछ ऐसी धारणा भी प्रचलित है कि चंद्र ग्रहण के दौरान प्रेग्नेंट महिला यानी कि गर्भवती महिला शयन न करें।

हालांकि इन मान्यताओं और धारणाओं के पीछे कुछ खास वजह नहीं है। शास्त्र के अनुसार हमने आपको पहले ही बता दिया है कि आप गर्भवती महिला उपरोक्त बताई गई बातों का ध्यान रखें।

कुछ जगह इस बात का उल्लेख मिलता है कि चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को शयन नहीं करना चाहिए। इसके पीछे कुछ खास वजह है जैसे कि जब भी कोई व्यक्ति सूर्य ग्रहण या चंद्र ग्रहण में शयन करता है तो ऐसे में शयन करना उस व्यक्ति के भाग्य के लिए सही नहीं होता है।

खास बात यह है कि जब गर्भवती महिला चंद्र ग्रहण में सो रही होती है तो शास्त्रों में भी कहीं कहीं ऐसा जिक्र मिलता है कि उसके गर्भ में जो शिशु पल रहा होता है उस पर चंद्रग्रहण का विपरीत असर पड़ने लगता है। जिसके फलस्वरूप कुंडली में जातक का चंद्र कमजोर हो सकता है।

इसके कारण बच्चा ज्यादा चंचल और मानसिक रूप से कमजोर भी हो सकता है। ऐसा कहीं कहीं उल्लेख मिलता है। यही कारण है कि कुछ लोग ऐसा भी कहते हैं कि चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को नहीं सोना चाहिए लेकिन हमने इसकी जानकारी आपको पहले ही दे दी है कि गर्भवती महिला चंद्र ग्रहण में सो सकती है अथवा नहीं।

q? encoding=UTF8&ASIN=8128820168&Format= SL160 &ID=AsinImage&MarketPlace=IN&ServiceVersion=20070822&WS=1&tag=sandeepbha042 21&language=hi INir?t=sandeepbha042 21&language=hi IN&l=li2&o=31&a=8128820168

Buy Now

 

गर्भवती महिला को चंद्र ग्रहण में क्या करना चाहिए

अब आपके मन में यह सवाल स्वाभाविक हो सकता है कि गर्भवती महिला चंद्र ग्रहण में क्या करें।

जैसे हमने बताया कि यदि चंद्रग्रहण अर्धरात्रि के बाद लगता है तो शयन भी कर सकते हैं। इसके अलावा यदि चंद्रग्रहण में आप सोना नहीं चाहती हैं तो इस दौरान भोजन बिल्कुल ना करें।

मंत्र का जाप कर सकते हैं या फिर भगवान का स्मरण कर सकते हैं। अपने पेट में पल रहे शिशु के लिए भगवान से प्रार्थना ही कर सकती हैं। भगवान श्री विष्णु के नाम का जाप करना गर्भवती महिला के लिए विशेष फलदायक माना जाता है।

प्यारी महिलाओं, आज के इस विषय में हमने चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिला को सोना चाहिए या नहीं इसकी पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान की है।

इसके अलावा प्रेगनेंसी, गर्भावस्था, पीरियड, मासिक धर्म आदि से जुड़ी किसी भी प्रकार की जानकारी या सहायता के लिए आप इस वेबसाइट के मेनू बार में भी जा सकते हैं।

या आपका यदि कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते हैं। विभिन्न प्रकार के रोगों के उपचार से जुड़ी जानकारी के लिए आप इस वेबसाइट के मेनू सेक्शन में जाएं।

 

इन्हें भी देखें-

पीरियड मिस होने के बाद उल्टी कितने दिन में शुरु होती है?
क्या लड़कों को भी मासिक धर्म होता है
5 मिनट में रुके हुए पीरियड्स का जबरदस्त उपाय
प्रेगनेंट होने के लिए Full गाइड बुक PDF
मासिक धर्म की पूरी किताब PDF
अंडा (Egg) फटने के बाद प्रेगनेंसी के लक्षण
जानें- पेट में लड़का हो तो कहाँ दर्द होता है?
हल्दी से प्रेगनेंसी रोकने के सबसे असरदार उपाय
महिलाओं के कमर दर्द का जबरदस्त घरेलू उपाय

 

सिर दर्द की सबसे अच्छी दवा कौन सी है- यहाँ देखें जानिए- लो शुगर के आसान घरेलू उपाय जानिए- बार-बार बुखार आने के कारण और उपाय सर्दियों में चेहरे पर कौन सी क्रीम लगानी चाहिए- जानें बेहतरीन क्रीम जानिए- सुबह खाली पेट अनार खाने के फायदे