आंखों में पानी आना कैसे बंद करें – रामबाण उपाय | Aankhon Mein Paani Aana Kaise Band Kare

आंखों में पानी आने से यहां पानी का संबंध आंसू आने से हैं। जब भी हम कोई काम एकाग्रता से करते है तो अचानक आंखों से आंसू आने लगते है और आज कल के समय में यह एक आम परेशानी है

जिससे बच्चे बूढ़े सभी वर्ग के लोग ग्रस्त है। आंखों से पानी आना कैसे बंद करे इसका सबसे अच्छा उपाय है मोबाइल और टीवी से जितना हो सके दूर रहने का प्रयास करे।

आप भी यदि आंखो से पानी गिरने के संबंध में जानना चाहते हैं। आप जानना चाहते हैं कि आंखो से पानी क्यों आता है, आंखो से पानी आने पर क्या करना होगा।

ऐसी तमाम जानकारियों के लिए हमारे द्वारा लिखे इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े। हमें पूर्ण विश्वास हैं कि इस लेख को पढ़ने के बाद आपको आंखो से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होगी। आइये जानते हैं कि आंखों में पानी आना कैसे बंद करें

आंखों से पानी क्यों आता है – कारण

आंखो से आंसू आने से बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता हैं। आंखो से पानी आने की बहुत सारी रीजन्स हैं जिसे नीचे पॉइंट के माध्यम से दर्शाया गया हैं।

  • अवरुद्ध आंसू नलिकाएं
  • आई एलर्जी के कारण
  • पलकों में सूजन होने के कारण
  • आंखों में धूल कण पड़ जाने के कारण
  • आंखो में चोट लग जाने के कारण
  • आंखो में जलन होने के कारण
  • इमोशन के कारण
  • प्याज के रसायन के कारण
  • ज्यादा देर मोबाइल या टेलीविजन देखने के कारण
  • पिंक आई के कारण

आंखों में पानी आना बंद कैसे करें- घरेलू उपाय

आंखो से पानी आने पर उसे किस प्रकार से बंद कर सकतें हैं इसके लिए कुछ घरेलू उपाय पॉइंट के जरिए नीचे दर्शाए गए हैं। जो आंखो के लिए काफी फायदेमंद हैं।

  • आंखो के ऊपर एलोवेरा लगाए
  • फ्रिज के पानी से आंखो पर सिकाई करें
  • आलु के चिप्स जो फ्रिज में ठंडा कर आंखो पर पट्टी लगाए
  • गुलाब जल आंखो में डाले
  • लॉन्ग से आंखो में पानी आना रोक सकते हैं
  • शहद को पलकों पर लगा कर आंखो से पानी आना रोक सकते हैं
  • टी बैग के द्वारा पानी आना रोक सकते हैं
  • नारियल के तेल से मालिश करें
  • त्रिफला के पानी से आंख धोने पर आंख से पानी आने की समस्या दूर होंगी
  • बर्फ का इस्तेमाल आंखो के अगल बगल शेकने के लिए करें।

आंखों से पानी आना कैसे बंद करे?

आंखो से पानी आने पर हम आंखो की सिकाई तरह तरह के प्रयोग द्वारा कर सकतें हैं। जिसके कुछ प्रयोग निम्न है – 

१. ठंडे पानी से आंखो की सिकाई

हमारे आंखो से पानी आए तो उसे सिकने के लिए हमें ठंडा पानी से अपने आंखो को धोना चाहिए। आप फ्रिज के पानी का इस्तेमाल कर सकतें है। फ्रिज का पानी काफी सितल होता हैं, जिसके कारण ये आंख के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होगा।

यदि प्रिज में रखें पानी बर्फ में परिवर्तित हो गया है तो उससे यानी बर्फ से भी आंखो की सिकाई कर सकते है। जिससे आंखो को काफी राहत मिलेगी और आंख से पानी आना बंद हो जाएगा।

२. गरम पानी के द्वारा आंखो की सिकाई

जब हमारे आंखो में किसी प्रकार से चोट लग जाए और आंखो की मांसपेशियां सुज जाए। आंखो में चोट लगने के कारण आंख से पानी गिरने लगे और आंखो में दर्द का अनुभव हो।

उस स्थिति में हमें गरम पानी करके किसी सूती कपड़े को जल में भिगोकर आंखो की धीरे धीरे मालिश करें। ऐसा करने से आपके आंखो का दर्द और आंखो से पानी गिरना बंद हो जाएगा।

इसे भी पढें-

 सिरदर्द दूर करने का सबसे बेहतर उपाय

इसे भी पढें-

नींद ना आना (अनिद्रा) रोग के जबरदस्त घरेलू उपाय

 

लेक्रिमेशन कौन सी बीमारी होती है?

लेक्रिमिशन आंख से संबंधित एक खतरनाक बीमारी हैं। बहुत सारे लोगो के आंखो से पानी गिरना आम बात बन गया हैं।

आज कल छोटे बच्चे के भी आंखो से पानी गिरने जैसी समस्याओं ने दस्तक देना शुरू कर दिया हैं। लेकिन यही पानी जब अधिक मात्रा में गिरने लगे तब यह एक खतरनाक बीमारी का रूप ले लेती हैं, जिसे लेक्रीमेशन कहते हैं।

लेक्रीमेशन में आंखो का सूज जाना ,आंखो में जलन होना, आंखो के अंदर नेत्र श्लेष्मा वाले भाग पर धारिया दिखना, नेत्र श्लेष्मा पर पतली परत का बनना, आंखो में जलन होना जैसी अनेकों गंभीर बीमारी होती हैं। जिसका समय रहते उपचार करना आवश्यक हो जाता हैं।

आंखों से आंसू आने पर डॉक्टर से कब संपर्क करें

अगर मोबाइल की स्क्रीन या फिर ज्यादा टीवी देखने से आपके आंखो से आंसू गिर रहे हैं तो आप घरेलू उपचार का सहारा ले सकते है। परंतु यह समस्या यदि बढ़ चुकी हैं तो आपको बिना समय गंवाए डॉक्टर से जल्द से जल्द संपर्क करना चाहिए।

आंख में किसी प्रकार से चोट लग जाए और आंखो में दर्द हो इस स्थिति में डॉक्टर से तुरंत मिले और उन्हे सारी जानकारियों से अवगत कराए।

आंखो में सूजन जैसी समस्या हो या आंख आना यानी आंखो का रंग खून के तरह लाल हो जाए तो हमें डॉक्टर से मिलना चाहिए।

कभी कभी आंखो की नेत्र श्लेष्मा पर हल्की हल्की धारिया दिखाई पड़ती हैं या फिर नेत्र श्लेष्मा वाले भाग पर पतली सी परत दिखने लगती हैं। जिससे हमें दिखाई देने में दिक्कत महसूस होने लगती हैं। वैसे कंडीशन में बिना समय गंवाए डॉक्टर से मिलें।

इन्हें भी देखें-

निष्कर्ष- आंखों से पानी आना

उपरोक्त लेख के माध्यम से आज हमनें आंखों में पानी आना कैसे बंद करें (Aankhon mein paani aana kaise band kare) आंखो से संबंधित पानी आने के सारे महत्वपूर्ण  फैक्ट्स के बारे में काफी सरलता पूर्वक जाना।

आंखो से संबंधित आंख से पानी आना, पानी आने का कारण, पानी आने को कैसे रोका जाए या लेक्रीमेशन क्या होता है, इनसे जुड़ी प्रत्येक कड़ी को जाना।

हमें आशा हैं कि आपको आंख से पानी आने और इसके बचाव के बारे में सारी जानकारियां अच्छी से समझ में आ गई होगी।

यदि अब भी आंख से पानी आने के संबंध में ऐसी कोई जानकारी आपके मन में उत्पन्न हो रही तो उसे कॉमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। हमें आपके प्रत्येक सवालों का जवाब देने में बहुत खुशी मिलती हैं।

Youtube Channel Image
Earn Money घर बैठे पैसे कमाएं
    Click Here